banner1 banner2 banner3
Bookmark and Share

air-hostez

भारतीय विमानन कंपनी एयर इंडिया ने जानकारी दी है कि वो अपनी छोटी घरेलू उड़ानों में इकॉनामी क्‍लास के यात्रियों को सिर्फ शाकाहारी खाना ही परोसेगा क्‍योंकि मांसाहारी खनों को बनाने में समय जाता लगता है। लगता है कि भारतीय विमानन कंपनी एयर इंडिया अब संस्‍कारी हो गयी है इसीलिए वो शाकाहार के रास्‍ते पर चलेगी। विमानन कंपनी ने सूचित किया है कि एयर इंडिया की 60 से 90 मिनट वाली घरेलू उड़ानों में केवल शाकाहारी खाना ही परोसा जाएगा। माना जा रहा है कि यह कदम कंपनी ने अपने कर्मचारियों पर बने काम के दबाव को कम करने के लिए उठाया है। क्‍योंकि मांसाहारी खाना तैयार होने में समय तुलनात्‍मक रूप से ज्‍यादा लगता है।

खबरों के अनुसार एयर इंडिया ने 23 दिसंबर की तारीख के साथ एक सर्कुलर जारी किया है जिसमें लिखा है कि नए साल के पहले दिन से ही एयर इंडिया की घरेलु उड़ानों के इकॉनमी क्‍लास में 60-90 मिनट के बीच केवल शाकाहारी खाना परोसा जाएगा। इस सर्कुलर पर कंपनी के जीएम डी.एक्‍स पैस के हस्‍ताक्षर हैं। इसके अलावा इस सर्कुलर में यह भी कहा गया है कि लंच और डीनर के समय यात्रियों को चाय या कॉफी सर्व नहीं की जाएगी। एक अधिकारी के अनुसार पुराने नियमों के चलते उड़ान के दौरान मांसाहारी और शाकाहारी खाने के चयन की वजह से समस्‍या आ रही थी।

जहां एक तरफ एयर इंडिया ने सर्कुलर जारी करते हुए सभी कर्मचारियों को इसका पालन करने के लिए कहा है वहीं या‍त्रि‍यों को यह सब पसंद नहीं आ रहा है। कुछ अन्‍य हस्‍तियों ने भी इस पर सवाल उठाये हैं। जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने भी ट्वीट कर एयरलाइन से पूछा है कि इसके पीछे कि इसके पीछे क्या वजह है, वह समझ नहीं पा रहे हैं।

298260