banner1 banner2 banner3
Bookmark and Share

kartar-singh

जालंधर। ओलंपिक में पदक जीतने वाले एक खिलाड़ी के गोमांस खाने के भारतीय जनता पार्टी के सांसद के बयान पर कडी आपत्ति जताते हुए उनकी ही पार्टी के नेता और पूर्व ओलंपियन करतार सिंह ने उनकी कड़ी आलोचना करते हुए कहा है कि खिलाड़ी की मेहनत को हल्के में नहीं लिया जाना चाहिए।

udit-raj

दिल्ली से भाजपा सांसद उदित राज ने ट्वीट करके जमैका के धावक उसैन बोल्ट का हवाला देते हुए कहा था कि उसने नौ स्वर्ण इसलिए जीते हैं क्योंकि उसके कोच ने उसे रोज दो बार गोमांस खाने की सलाह दी थी। इस संबंध में पूर्व ओलंपियन तथा पहलवान करतार सिंह ने कहा, ‘ये सब बेकार की बातें हैं। किसी खिलाड़ी की मेहनत को गोमांस खाने से नहीं जोड़ा जाना चाहिए। ऐसा नहीं है कि उसैन बोल्ट ने केवल गोमांस खाया और ओलंपिक पदक जीत कर ले गया।’

एशियाई खेलों में कुश्ती के स्वर्ण पदक विजेता रहे करतार ने कहा, 'भाजपा नेता का यह बयान हास्यास्पद है। पता नहीं नेता इस तरह के बयान क्यों देते हैं। अगर गोमांस खाने से पदक मिलना होता तो जमैका के ही जो दूसरे खिलाड़ी ओलंपिक में आते हैं और बहुत से ऐसे खिलाड़ी जो खेलों में हिस्सा लेते हैं और गोमांस खाते हैं तो सारे पदक उन्हीं लोगों को मिलने चाहिए थे।'

भारतीय कुश्ती एसोसिएशन के महासचिव रह चुके करतार ने कहा, 'कोई दो राय नहीं कि खिलाड़ियों को प्रोटीन की आवश्यकता होती है लेकिन प्रोटीन के और भी बहुत सारे स्रोत हैं और यह कहना कि कोई खिलाड़ी गोमांस खाकर पदक जीता है तो यह वाहियात किस्म की बयानबाजी है क्योंकि ऐसा कहने से खिलाड़ी की मेहनत पर सवाल खडा किया जा रहा है।'

पंजाब पुलिस में महानिरीक्षक का पद संभाल चुके सिंह ने कहा, ‘क्या शाकाहारी व्यक्ति पदक नहीं जीत पाता अथवा क्या वह बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पाता है। अगर वह यह कहना चाहते हैं कि गोमांस के बिना पदक संभव नहीं है तो मैं उनकी इस बात से सहमत नहीं हूं।’उन्होंने कहा कि सतपाल तो ऐसे पहलवान हैं जिन्होंने शाकाहार के दम पर ही अपना प्रदर्शन लोगों को दिखाया है इसलिए ऐसी बयानबाजी भारतीय खिलाड़ियोंका अपमान करने वाली और पूरी तरह राजनीति से प्रेरित है।

दूसरी ओर भाजपा की ही नेत्री लक्ष्मीकांता चावला ने उदित के बयानों की निंदा करते हुए कहा, ‘यह युवाओं को गुमराह करने वाला है। बहुत से ऐसे पहलवान, खिलाड़ी और सेना के जवान हैं जो गोमांस तो छोडिये शाकाहार के बल पर दुनिया में करामात कर गए हैं और शाकाहार से कुछ नहीं होता तो हाथी और घोडा कभी इतना शक्तिशाली नहीं होते। ’

इस पर कांग्रेस नेता विरेंदर शर्मा ने कहा कि उदित के बयानों से भाजपा की मानसिकता झलकती है। एक ओर तो वह गोमांस पर प्रतिबंध लगा रहे हैं और दूसरी ओर उनके नेता खुलेआम इस तरह की बयानबाजी करते हैं और इसका व्यापार करते हैं।

298256